Delhi Police में Online FIR और चोरी की रिपोर्ट कैसे करें

दिल्ली में गुम हुए लेख/दस्तावेज की पुलिस रिपोर्ट। दिल्ली पुलिस में ऑनलाइन FIR कैसे करें? Delhi Police Online FIR Process

हम अब डिजिटल युग में प्रवेश कर रहे हैं, और हमारी पुलिस भी हाई टेक हो रही है। कुछ समय पहले तक आपको पता होगा पुलिस के पास FIR (प्रथम सूचना रिपोर्ट) करना कितना जटिल होता था। लेकिन अब आप घर बैठे दिल्ली पुलिस की वेबसाइट पर ऑनलाइन एफआईआर दर्ज करवा सकते हैं। दिल्ली पुलिस में ऑनलाइन प्राथमिकी कैसे करें? ये समझने के लिए पोस्ट को पूरा पढ़े। यहाँ हम आपको स्टेप बाय स्टेप बताएंगे की दिल्ली पुलिस में ऑनलाइन एफआईआर कैसे करें?

Delhi Police में Online FIR

अब आप पोर्टल का उपयोग करके दिल्ली पुलिस में ऑनलाइन एफआईआर दर्ज कर सकते हैं। दिल्ली पुलिस ने अपने लेख या महत्वपूर्ण दस्तावेज खोने वाले लोगों के लिए प्राथमिकी दर्ज करने के लिए ऑनलाइन प्रणाली शुरू की है। मोटर वाहन चोरी के मामलों की प्राथमिकी दिल्ली पुलिस के पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन भी दर्ज की जा सकती है।

शिकायत मोबाइल या वेब के माध्यम से किसी भी समय कहीं भी पुलिस थानों में जाए बिना दर्ज की जा सकती है क्योंकि ई-पुलिस स्टेशन का अधिकार क्षेत्र पूरे दिल्ली के एनसीटी पर होगा। मोटर वाहन चोरी के मामले दर्ज करने के लिए अपराध शाखा के तहत एक ई-पुलिस स्टेशन बनाया गया है। शिकायतकर्ता को प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) दर्ज करने में सक्षम बनाने के लिए मोबाइल/वेब एप्लिकेशन विकसित किया गया है और बिना किसी पुलिस स्टेशन के तुरंत उसकी एक प्रति प्राप्त की जा सकती है। ऑनलाइन एफआईआर पोर्टल का उपयोग खोए हुए लेखों के लिए किया जा सकता है जैसे:

  • -Aadhaar Card
  • -Driving Licence
  • -Passport
  • -Pan Card
  • -Wallet / Purse
  • -Important documents like school or college mark sheets or Degrees

ये भी पढ़ें: Delhi Metro Map Pdf डाउनलोड कैसे करें

कोई Article/Document खोने पर दिल्ली पुलिस में ऑनलाइन FIR कैसे करें

Delhi Police Online FIR Process For Lost Documents

  • दिल्ली पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • लिंक पर क्लिक करके आप Police Report of Article/Document Lost in Delhi पेज पर आ जाएंगे।
  • यहाँ एक ऑनलाइन फॉर्म ओपन होता है। फॉर्म के टाइटल में “Police Report of Article/Document Lost in Delhi” लिखा हुआ होता है।

अब यहाँ आपको ये फॉर्म भरना है है। यान्हा मैं आपको पूरी डिटेल्स में बताऊंगा की फॉर्म कैसे भरना है। आप दिल्ली के अंदर अपने खोये या चोरी हुए डाक्यूमेंट्स के लिए एफआईआर करवा सकते हैं।

  • Complainant’s Name:  जो शिकायत कर रहे हैं उनका नाम यहाँ दर्ज करें।
  • Father’s/Mother’s Name: यहाँ शिकायतकर्ता के माता या पिता में से किसी एक का नाम दर्ज करें।
  • Complainant’s Address: यहाँ शिकायतकर्ता का पूरा पता दर्ज करें।
  • Mobile Number: यहाँ शिकायतकर्ता का मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • Complainant’s Email ID: यहाँ शिकायतकर्ता की ईमेल दर्ज करें।
  • Place of Loss in Delhi: दिल्ली में जहाँ आपका डॉक्यूमेंट खोया या चोरी हुई उस जगह का नाम दर्ज करें।
  •  Date of Loss:डॉक्यूमेंट खोने की तारीख दें।
  • Time of Loss (if known) : अगर आपको समय याद है तो वो भी दर्ज करें।
  • Lost Articles and Description: खोये हुए डॉक्यूमेंट के बारे में बतायें। अगर कोई और जानकारी देनी है तो “Any Other Details” में दर्ज करें।
  • अब captcha code दर्ज करके “Submit Button” पर क्लिक कर दें।

दिल्ली पुलिस में आपके डॉक्यूमेंट खोने की जानकारी दर्ज हो गई है। या आप कह सकते हैं Delhi Police Online FIR की प्रक्रिया पूरी हुई। Lost Report की कॉपी आपके रेजिस्टर्ड ईमेल पर भेज दी जायेगी। आप चाहें तो प्रिंट निकाल कर सुरक्षित रख लें।

ये भी पढ़ें : डीटीसी बस पास के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

LR ( Lost Report ) Number क्या होता है?

Online FIR Lodge होने बाद आपको LR (Lost Report) Number प्रदान किया जाता है। लॉस्ट रिपोर्ट नंबर को संभाल कर रखें। LR Numberआपके कंप्लेंट की PDF file पर भी होता है। ये एक unique number होता है। जिससे आगे रिपोर्ट को ट्रैक करने में किया जा सकता है। साथ ही ये आपके खोये डॉक्यूमेंट के रिपोर्ट का प्रूफ भी है।

यहाँ मैं आपको बताता हूं की आपकिस तरह की शिकायत का ऑनलाइन एफआईआर नहीं कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: दिल्ली राशन कार्ड कैसे बनवाएं

किस प्रकार के शिकायत को दर्ज नहीं किया जा सकता?

यह कोई आपतकालिन प्रतिक्रिया सेवा नहीं है। पुलिस से संपर्क करने के लिए इस्तमाल नहीं किया जाना चाहिएअगर :
(i) कोई अपराध चल रहा है या प्रगति पर है
(ii)अपराध में शामिल संदिग्ध अभी भी है द्रश्य या आसपास के क्षेत्र में
(iii) किसी का जीवन या संपदा तत्काल खतरे में है
(iv) घटना में कोई व्यक्ति घायल हो गया है।
(v) रिपोर्ट एक लापता व्यक्ति से संबंध है।
(vi) शारीरिक साक्ष्य जैसे की खुन केधब्बे,उंगलियों के निशान एक संदिग्ध में पाए गए हैं
(vii) अनुपस्थित / खोये लेख किसी भी अपराध से संबंध है।

उपरोक्त स्थिति में या किसी में आपातकालीन में हमेशा 100 पर कॉल करें या नजदीकी पुलिस स्टेशन में संपर्क करें।

दिल्ली पुलिस ऑनलाइन एफआईआर एक अच्छा कदम है। आपको पुलिसवाले या थाने के चक्कर नहीं लगाने पड़ते। मैं ऐसा मानता हूं की सभी राज्य की पुलिस को अपना ऑनलाइन एफआईआर सिस्टम रखना चाहिए। पोस्ट को शेयर करें ताकी दसरों को भी जानकारी मिल सके।

Similar Posts

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.