|

Railway UTS App से ऑनलाइन प्लेटफार्म और लोकल ट्रेन की टिकट बुक करें

Railway UTS App से ऑनलाइन प्लेटफार्म और लोकल ट्रेन की टिकट बुक करें। Online Unreserved Ticket की पूरी जानकारी।

Online Unreserved Ticket या Online Platform Ticket खरीदने के लिए Indian railway का UTS Mobile app अब देश भर में उपलब्ध है। जैसा की आपको पता होगा देश भर में unreserved ticket लेने के लिए या platform ticket के लिए हमें टिकट काउंटर आगे लाइन में लगना होता था।

इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की Railway UTS App से Online Platform Ticket कैसे खरीदें? इसके साथ ही लोकल ट्रेन की टिकट ऑनलाइन कैसे बुक करें?

ये भी पढ़ें: रेलवे काउंटर टिकट ऑनलाइन कैंसिल कैसे करें ?

Railway UTS App से Platform Ticket Online कैसे खरीदें

भारतीय रेलवे अब डिजिटल हो गया है। प्लेटफॉर्म टिकट की बुकिंग ऑनलाइन होती है।
मुझे नहीं पता कि आपको याद है या नहीं, लेकिन मैं अपने पिता के साथ रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट के लिए कतार में खड़ा होता था।

उन दिनों में, ऑनलाइन टिकट बुक करना एक विकल्प नहीं था। कभी-कभी हमें टिकट पाने के लिए घंटों कतार में खड़ा होना पड़ता था।

लेकिन प्रौद्योगिकी के साथ, हम टिकट बुक करने के लिए रेलवे स्टेशन पर अधिक से अधिक लोगों को नहीं देखते हैं। हम में से अधिकांश भारतीय रेलवे के लिए ऑनलाइन टिकट बुक करते हैं।

आईआरसीटीसी द्वारा यूटीएस ऐप के लिए धन्यवाद, हम अब ऑनलाइन ट्रेन टिकट भी बुक कर सकते हैं। इतना ही नहीं, अब हम ऑनलाइन प्लेटफॉर्म टिकट बुक करने में सक्षम हैं। नीचे ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म टिकट बुकिंग के लिए चरण दिए गए हैं।

  • UTS ticket के लिए सबसे पहले आपको रजिस्ट्रेशन करना होता है। जहाँ आपको अपनी जानकारी देनी होती है।
  • रजिस्ट्रेशन होने के बाद ID और पासवर्ड आपको मिल जाता है। जिसके बाद लॉगिन करके आप टिकट की बुकिंग कर सकते हैं।
  • UTS app के द्वारा टिकट खरीदने के लिए आपको सोर्स स्टेशन से 5 किलोमीटर के डिस्टेंस के अंदर होना चाहिए। एक आदमी एक समय में 4 टिकट बुक कर सकता है।
  • यु टी एस एप्प के माध्यम से एक रेजिस्टर्ड यूजर प्लेटफार्म टिकट और मंथली पास भी खरीद सकता है।

मोबाइल ऐप पर यूटीएस अनारक्षित ट्रेन टिकट बुक करने के लिए एक भारतीय रेलवे का आधिकारिक एंड्रॉइड मोबाइल टिकटिंग ऐप है।

ये भी पढ़ें: कैंसिल ट्रेन टिकट का ऑनलाइन रिफंड स्टेटस कैसे चेक करें

Railway UTS App का उपयोग कौन कर सकता है?

यह सेवा सत्रह वर्ष से कम उम्र के किसी व्यक्ति के लिए उपलब्ध नहीं है।

नियम और शर्तों को स्वीकार करके या अन्यथा सेवा या वेबसाइट का उपयोग करके, यह माना जाएगा कि संबंधित व्यक्ति की आयु कम से कम सत्रह वर्ष है और उसे पहले भारतीय रेलवे द्वारा सेवाओं से निलंबित या हटाया नहीं गया है।

utsonmobile ऐप सेवा का लाभ उठाने के लिए पूर्वापेक्षाएँ:
वर्तमान में, utsonmobile ऐप Android, Windows और iOS संस्करणों में उपलब्ध है। मैं
स्मार्टफोन में अच्छी जीपीआरएस कनेक्टिविटी होनी चाहिए।
टिकटों के पेपरलेस मोड का लाभ उठाने के लिए, स्मार्टफोन जीपीएस सक्षम होना चाहिए।

Railway UTS पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

  • उपरोक्त सेवाओं का लाभ उठाने के लिए यूजर पंजीकरण uts ऐप या वेबसाइट (https://www.utsonmobile.indianrail.gov.in) के माध्यम से किया जा सकता है।
  • यात्री को पंजीकरण प्रक्रिया के लिए मोबाइल नंबर, नाम, पासवर्ड, लिंग, जन्म तिथि जैसी जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • मोबाइल नंबर की वैधता सुनिश्चित करने के लिए मोबाइल एप्लिकेशन यूजर आईडी फील्ड के सामने निर्दिष्ट मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजेगा।
  • सफल पंजीकरण के बाद, उपयोगकर्ता को सफल पंजीकरण के बारे में सूचित करने वाला एक एसएमएस भेजा जाएगा।
  • एक जीरो-बैलेंस आर-वॉलेट खाता सक्रिय हो जाएगा।

लॉगिन प्रक्रिया:
पंजीकरण के बाद, यात्री को uts ऐप में प्रवेश करने के लिए लॉगिन पेज में क्रेडेंशियल दर्ज करना होगा।

Railway UTS App द्वारा दी जाने वाली सेवाएं:

  1. टिकट बुक करें:
    सामान्य बुकिंग (यात्रा और वापसी टिकट)
    त्वरित बुकिंग (यात्रा और वापसी टिकट)
    प्लेटफार्म टिकट
    सीजन टिकट
    क्यूआर बुकिंग (प्लेटफॉर्म टिकट, यात्रा और वापसी टिकट)
  2. टिकट रद्द करना :
    टिकट की छपाई से पहले UTS App का उपयोग करके cancellation charges से अधिक बुकिंग राशि वाले पेपर टिकट को रद्द किया जा सकता है। पेपरलेस टिकट को रद्द करने की अनुमति नहीं है।
  3. बुकिंग हिस्ट्री
  4. R-Wallet:
    आर-वॉलेट का बैलेंस देखें
    रिचार्ज आर-वॉलेट
    ट्रान्जेक्शन हिस्ट्री
    सरेंडर आर-वॉलेट
  5. प्रोफाइल:
    शहर बदलें
    बार-बार यात्रा मार्ग बदलें
    यात्रा विवरण बदलें
    पासवर्ड बदलें
    हैंडसेट अनुरोध बदलें
    व्यक्तिगत विवरण बदलें
    सिंक टिकट
  6. बुक किया हुआ टिकट दिखाएँ:
    ‘शो टिकट’ सुविधा का उपयोग करके टिकट टीटीई (यात्रा टिकट परीक्षक) या टीसी को दिखाया जा सकता है। मोबाइल में इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध नहीं होने पर पेपरलेस टिकट दिखाने के लिए ऑफलाइन मोड भी उपलब्ध है।

ध्यान दें:-
सिर्फ टीटीई (ट्रैवलिंग टिकट एक्जामिनर) या टीसी देखकर टिकट बुकिंग से बचने के लिए ट्रेन के अंदर या स्टेशन परिसर के भीतर पेपरलेस टिकट बुकिंग (बुक एंड ट्रैवल) की अनुमति नहीं है।
पेपरलेस टिकट की बुकिंग के लिए उपयोगकर्ता को स्टेशन परिसर/रेलवे ट्रैक से दूर होना चाहिए।

बुकिंग के पेपर टिकट (बुक और प्रिंट) मोड के लिए, ट्रेन में चढ़ने से पहले स्टेशन पर एटीवीएम / सीओटीवीएम कियोस्क या सामान्य बुकिंग काउंटर से टिकट का प्रिंटआउट लेना अनिवार्य है।

Railway Wallet (R Wallet) क्या है?

पैसेंजर्स जब यूटीएस मोबाइल ऐप पर रजिस्टर्ड हो जाते हैं, तो रेलवे वॉलेट (आर वॉलेट) को रिचार्ज कर पाएंगे। रजिस्ट्रेशन होने के बाद आपका आर वॉलेट जीरो बैलेंस के साथ खुद ही सक्रिय हो जाता है।

आर वॉलेट को किसी भी यूटीएस काउंटर या रेलवे की वेबसाइट से प्रयोग कर सकते हैं। R Wallet में भुगतान करते समय आप मोबिक्विक या पेटीएम में से कोई पेमेंट गेटवे चुन सकते हैं।

ट्रैवल टिकट, सीजन टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट के लिए पेपरलेस टिकट बुक किया जा सकता है। हां कुछ चुने हुए स्टेशनों के लिए प्लेटफॉर्म टिकट बुकिंग की अनुमति नहीं है।

टिकट बुकिंग के लिए आपके फोन में इंटरनेट कनेक्शन होना जरूरी है। आप कोई भी आगे के तारीख की टिकट बुकिंग नहीं कर सकती है। यानि टिकट हमेशा करंट तारीख में होगी।

Paperless Ticket क्या है?:

Railway UTS App से यात्री पेपरलेस पैसेंजर टिकट, सीजन टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट बुक कर सकता है। इसमें टिकट उसके मोबाइल ऐप में ही दे दिया जाएगा। पैसेंजर टिकट की हार्डकॉपी लिए बिना भी ट्रैवल कर सकता है। जब भी टिकट जांच कर्मचारी (टिकट चेकर) टिकट मांगता है, तो पैसेंजर शो टिकट ऑप्शन का इस्तेमाल कर सकता है।

  • पेपरलेस टिकट बुकिंग के लिए आपका फ़ोन GPS Enabled होना चाहिए।
  • इस टिकट को कैंसिल नहीं किया जा सकता है।
  • टिकट बुकिंग के 1 घंटे के भीतर आपको यात्रा करनी होती है।

यहाँ एक बात का ख्याल रखें, अगर यात्री मोबाइल पर टिकट दिखने में सक्षम नहीं है ,तो उनको Without Ticket माना जायेगा।

मेरी सलाह है की फ़ोन को चार्ज रखें या साथ में पावर बैंक रखें।

Paper Ticket क्या है?

यात्री Railway UTS App केमाध्यम से टिकट बुक कर सकता है। टिकट की बुकिंग पर, उपयोगी टिकट की डिटेल के साथ बुकिंग आईडी मिल जाएगी। Booking details history में भी उपलब्ध होंगे। बुकिंग आईडी एसएमएस के द्वारा भी आपके फोन पर आ जाएगा।

पेपर टिकट के बाद, यात्री अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर और बुकिंग आईडी दर्ज करके के किसी भी एटीवीएम से टिकट प्रिंट आउट करने के लिए स्रोत या गंतव्य स्टेशन पर जा सकता है।

Customer Feedback & Complaint

आप रेलवे के ऑफिसियल नंबर 139 पर कॉल कर सकते हैं।

Register your Feedback/Complaint on RailMadad

UTS Feedback/Complaint Registration Flow:
RailMadad portal => Click on STATION COMPLAINT => select COMPLAINT TYPE as UNRESERVED TICKETING => Select SUB TYPE

मोबाइल फोन के माध्यम से अनारक्षित टिकट खरीद के लिए एक पायलट परियोजना दिसंबर 2014 में मध्य रेलवे पर कुछ चुन लिए स्टेशनों पर शुरू की गई थी। ताकी यात्रियों बिना लाइन में लगे अनारक्षित टिकट की सुविधा ले सके।

धीरे धीरे अनारक्षित मोबाइल टिकट 2015 और 2017 के बीच चेन्नई, दिल्ली, कोलकाता और सिकंदराबाद के मेट्रोपॉलिटन सिटीज में पेपरलेस टिकटिंग की सुविधा के साथ सब नगरों तक बढ़ा दिया गया था।

यूटीएस ऐप को 4 साल पहले ही लॉन्च कर दिया गया था, लेकिन जनवरी 2018 मैं, 1.8 लाख यात्रियों ने दैनिक इसका उपयोग किया। सितंबर में तो 4.4 लाख यात्रियों तक पंहुच गया और अक्टूबर में ऐप का उपयोग करने वाले यात्रियों की संख्या प्रतिदिन 4.75 लाख थी। वर्त्तमान में ऐप से करीब 45 लाख रुपये की दैनिक कमाई होती है।

रेलवे ने 2017-2018 में अपने नेटवर्क में 7,483 मिलियन अनारक्षित टिकट बेचे।

मेरा पेपरलेस प्लेटफॉर्म टिकट कब तक वैध रहेगा?

रेलवे के नियमों के अनुसार प्लेटफॉर्म टिकट बुकिंग के समय से दो घंटे के लिए वैध होता है।

क्या यूटीएस टिकट रद्द किया जा सकता है?

मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से टिकट रद्द करने की अनुमति केवल तभी दी जाती है जब टिकट कियोस्क पर printed न हो। एक बार जब टिकट कियोस्क पर प्रिंट हो जाता है, तो प्रिंटआउट के एक घंटे के भीतर केवल यूटीएस काउंटर पर रद्दीकरण की अनुमति दी जाती है। पेपरलेस टिकट को रद्द करने की अनुमति नहीं है।

मैं यूटीएस वॉलेट से अपना पैसा कैसे वापस पा सकता हूं?

यात्री को मोबाइल एप्लिकेशन से surrender R-Wallet request from भरना होगा और उसे एसएमएस के रूप में एक गुप्त कोड मिलेगा। यात्री को रेलवे स्टेशन पर जाकर बुकिंग ऑपरेटर को सीक्रेट कोड दिखाना होता है और क्लर्क की राशि काट कर कैश रिफंड प्राप्त करना होता है।

Similar Posts

6 Comments

  1. Hi dear sir. How are you? Sir aap apne blog pe konsa theme use kar rahe hain. plz mujhe batain. aur aap ka blog blogger pe hai ya wordpress pr.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.