Google Alerts: गूगल अलर्ट क्या है? ये कैसे काम करता है?

यदि आप जानना चाहते हैं कि Google पर आपके या आपके ब्रांड या बिज़नेस के बारे में क्या कहा गया है। तो इसका समाधान Google अलर्ट है। गूगल अलर्ट क्या है? Google Alerts कैसे काम करता है?

यह एक निशुल्क उपकरण है जो आपको परिणामों के Google के माध्यम से सूचित करता है जो आपका नाम या आपके ब्रांड का प्रदर्शन करते हैं।

ये सभी जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलेगी।

गूगल अलर्ट क्या है?

Google Alerts माउंटेन व्यू दिग्गज द्वारा विकसित एक एप्लिकेशन है। यह आपको वेब की निगरानी करने और उन पेजेज को खोजने की अनुमति देता है जिनमें आपके द्वारा दिए गए विशिष्ट कीवर्ड होते हैं।

जब भी कोई आपके द्वारा दर्ज किए गए कीवर्ड या क्वेरी पर कुछ पोस्ट करता है, तो ये सर्विस आपके ई-मेल अड्रेस पर अलर्ट भेजती है।

इस तरह आप अपने पसंदीदा विषयों पर अपडेट रह सकते हैं।

या आपके ब्रांड या बिज़नेस के नेट (ब्रांड मॉनिटरिंग) पर उल्लेख किए जाने पर आपको सूचित किया जाता है।

यह सभी जानकारी Google नेटवर्क के भीतर वेबसाइटों, ब्लॉग और सर्चेस द्वारा प्रदान की जाती हैं।

गूगल अलर्टस कैसे काम करता है?

कुछ सब्जेक्ट्स या टॉपिक्स में हम हमेशा अपडेट रहना चाहते हैं। या अगर इंटरनेट पर हमारा कोई ब्रांड या बिज़नेस है। तो उससे जुड़ी नई जानकारी हमें होनी चाहिए। गूगल अलर्टस की मदद से ये सब कुछ आसानी से हो जाता है।

गूगल अलर्टस गूगल की एक ऐसी सर्विस है, जिसके द्वारा आप किसी टॉपिक या कीवर्ड के लिए अलर्ट लगा सकते हैं।

Google Alerts का प्रयोग करने के लिए आपके पास जीमेल अकाउंट होना चाहिए। आप जिस कीवर्ड या टॉपिक पर अलर्ट सेट करेंगे। उसके बारे में कुछ भी इंटरनेट पे आएगा।

तो आपको जीमेल इनबॉक्स में इसकी सुचना भेज दी जायेगी।

गूगल अलर्टस को आप किसी व्यक्ति, कंपनी, ब्रांड या न्यूज़ टॉपिक के लिए बना सकते हैं। इसके आपको मेल पर अपडेट मिलती रहेंगी।

Google Kormo Jobs App क्या है और कैसे प्रयोग करें?

Google Alerts कैसे बनाएं ?

गूगल अलर्ट को बनाना बहुत आसान है। यहाँ मैंने सभी स्टेप्स बताएं हैं। आप इसको फॉलो करके अपने पसंदीदा कीवर्ड पर अलर्ट लगा सकते हैं।

  • गूगल अलर्ट की वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अपने जीमेल अकाउंट से लॉगिन करें।
  • जिस टॉपिक के लिए अलर्ट चाहिए वो कीवर्ड सर्च बार में एंटर करें।
  • आपको तभी अलर्ट का प्री व्यू शो होगा। अब अलर्ट क्रिएट कर दें।

गूगल अलर्ट का Delivery Time कैसे सेट करें ?

जब आप गूगल अलर्ट बना लेते हैं। फिर मेल पर उस टॉपिक की जानकारी आनी शुरू हो जाती है। कई बार वो अलर्ट हमसे मिस हो जाता है।

इसकी कई वजह हो सकती है। जैसे की मेरे साथ होता है मुझे रोज कई ईमेल आते हैं।

आपको मेरी तरह मॉर्निंग में चाय के साथ मेल चेक करना पसंद हो। या रात को सोने से पहले आप मेल्स देखते होंगे।

कुछ लोग वीकेंड या छुट्टी में ही अपने मेल्स चेक करते हैं। वजह चाहे जो भी हो।

आप गूगल अलर्टस की डिलीवरी टाइम को खुद से सेट कर सकते हैं।

GOOGLE-Alert
  • आपको “My Alerts” के पास सेटिंग के आइकॉन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद Delivery Time और Digest का ऑप्शन मिलता है।
  • डिलीवरी टाइम को सेलेक्ट करने के बाद आपको टाइम सेट करना है।
  • डाइजेस्ट पर टिक करके आप एक ही मेल में सभी अलर्टस पा सकते हैं।

मेरे विचार से डाइजेस्ट डिलीवरी सबसे बढ़िया है। इसमें आपको हर टॉपिक की कई मेल्स नहीं आएगी। एक मेल में सभी अलर्टस होंगे।

इसके साथ ही आप मेल की फ्रीक्वेंसी भी सेट कर सकते हैं।

How often में आप अपने अलर्टस को डेली या सप्ताह में एक बार डिलीवर करने के लिए सेट कर सकते हैं।

 Google Alerts को कस्टमाइज कैसे करें?

अलर्टस बनाने के बाद आप उनको अपने हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं। सभी अलर्टस के सामने एडिट का आइकॉन आपको मिल जाता है।

एडिट मोड में जाने के बाद कई सेक्शन शो होते हैं। जिनको आप अपने हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं।

Google-Alerts-kya-hai

यहाँ हमने गूगल अलर्टस के पैरामीटर्स को समझाया है।

How Often : यहाँ आपको डिलीवरी का टाइम सेट करना है।

Sources : यहाँ आप ब्लॉग, वेबसाइट या किसी न्यूज़ पोर्टल को सोर्स के रूप में ले सकते हैं। या फिर इसको आटोमेटिक रहने दें।

Language : यहाँ कई तरह भाषा .उपलब्ध हैं। आप कोई भी लैंग्वेज को सेलेक्ट कर सकते हैं।

Region : यहाँ आप को वो कंट्री देनी हैं जंहा से अलर्ट चाहिए। हर अलर्ट के लिए any region रहने दें।

How Many : यहाँ आप रिजल्ट्स को फ़िल्टर कर सकते हैं। आप बेस्ट रिजल्ट या आल रिजल्ट को चुन सकते हैं।

अब अपडेट अलर्टस पर क्लिक कर दें। आपके गूगल अलर्टस अपडेट हो गए।

गूगल अलर्टस को कैसे बंद करना है


Google अलर्ट की अपनी कुछ सीमाएँ हैं।

सबसे पहले, यह केवल Google नेटवर्क की निगरानी करता है, सोशल नेटवर्क,फ़ोरम्स , बिंग या याहू, डीप वेब और डार्क वेब जैसे अन्य सर्च इंजनों की कोई जानकारी नहीं देता है।

यह केवल उन परिणामों को दिखाता है जो Google के टॉप रिजल्ट्स में हैं।

यदि आप किसी ऐसे क्वेरी से संबंधित अपडेट को रोकना चाहते हैं जिसके लिए आपने अलर्ट एक्टिव कर दिया है, तो मैं चरण दर चरण बताऊंगा कि Google अलर्ट को कैसे निष्क्रिय किया जाए।

पहले से बनाए गए अलर्ट को समाप्त करने के लिए,

  • गूगल अलर्टस की वेबसाइट पर जाएं।
  • माय अलर्टस में अपने अलर्टस की सूची देखें।
  • सभी अलर्टस के आगे ट्रैश आइकॉन होता है।
  • ट्रैश आइकॉन पर क्लिक करके अलर्ट डिलीट करें।

आपने किस कीवर्ड या टॉपिक के लिए अलर्ट बनाया है, हमें कमेंट में बताएं।

गूगल अलर्टस की किसी भी जानकारी के लिए कमेंट करें। या हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें। इस तरह के अपडेट के लिए न्यूज़लेटर सब्सक्राइब करें। 

गूगल अलर्टस की महत्वपूर्ण जानकारी को शेयर करें। ताकि दूसरों को भी लाभ मिल सकें।

मैं नीतीश वर्मा टेक्निकल ब्लॉग का ऑथर हूं। यहां मैं टेक्नोलॉजी से जुड़ी पोस्ट करता हूं। यहाँ आप बैंकिंग, डिजिटल इंडिया से जुड़ी जानकारी के अलावा एंड्राइड एप्प और लेटेस्ट एल्क्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट्स के रिव्यु आपके साथ शेयर करता हूँ।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.