eSIM क्या है? भारत में ई-सिम कार्ड का उपयोग कैसे करें?

क्या आपने eSIM Card का प्रयोग किया है? इस पोस्ट में आप ई-सिम खरीदने और उसको एक्टिवेट करने से जुड़ी सभी जानकारी पाएंगे।

eSIM फिजिकल सिम के लिए सबसे अच्छा रिप्लेसमेंट है जिसका उपयोग हम अपने डिवाइस में करते हैं। ये कई सुविधाएँ देते हैं क्योंकि आप अपने सिम कार्ड को किसी भी समय सीधे अपने मोबाइल ऑपरेटर के माध्यम से आसानी से बदल सकते हैं।

आज बिना सिम कार्ड के आप अपने फोन की कल्पना भी नहीं कर सकते, बिना सिम कार्ड के किसी फोन का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। सिम कार्ड का मतलब है सब्सक्राइबर आइडेंटिफिकेशन मॉड्यूल। ये एक छोटी सी चिप होती है जो आपके फोन को नेटवर्क से कनेक्ट करने में मदद करती है और उपयोगकर्ता का सारा डेटा बचाती है। पिछले कुछ सालो में सिम कार्ड का साइज छोटा होता चला गया। माइक्रो सिम, मिनी सिम, और नैनो सिम की जग फ्यूचर में eSIM कार्ड ले सकती है।

आइये जानते हैं eSIM क्या है और कैसे काम करता है?

ये भी पढ़ें: WhatsApp को लैंडलाइन से कनेक्ट कैसे करें? 

क्या है eSIM

eSIM को embedded Subscriber Identification Module मॉड्यूल कहा जाता है। ये टेक्नोलॉजी सॉफ्टवेयर के द्वारा काम करता है। इससे पेहले ये टेक्नोलॉजी स्मार्टवॉच में यूज की जा रही थी। लेकिन अब इस टेक्नोलॉजी को स्मार्टफोन में भी इस्तेमाल किया जा रहा है। यूजर्स को इससे एक ऑपरेटर से दूसरे ऑपरेटर में स्विच करने में भी आसान होगी।

IPhone XS लॉन्च होने के बाद eSIM के बारे में लोगों ने जाना। एक eSIM/eUICC (एम्बेडेड सिम या एम्बेडेड UICC) एक ऐसी नई व्यवस्था या नई तकनीक है, जो आपके वर्तमान सिम कार्ड से बदला जा सकता है। हालांकि आपके द्वारा इस्तेमाल किया जा रहा है रेगुलर सिम कार्ड को फोन से हटाया जा सकता है। लेकिन eSIM को एक बार फोन में लगाने के बाद नहीं हटाया नहीं जा सकता है।

अब यहाँ सबसे बड़ा सवाल ये आता है की ई-सिम आखिर कब तक पूरी तरह से प्रयोग में आ जाएगा। फिलहाल इसके बारे में अभी कुछ कहना सही नहीं होगा।

eSIM का उपयोग करने के लाभ

ई-सिम सभी के लिए फायदेमंद हैं, जिनमें OEM निर्माता, उपयोगकर्ता और टेलीकॉम ऑपरेटर शामिल हैं। भारत में eSIM का उपयोग करने के कुछ लाभ यहां दिए गए हैं।

  • eSIM स्लाइड-इन सिम ट्रे को ऑनबोर्ड सोल्डर किए गए eSIM से बदलकर आपके स्मार्टफोन के अंदर बहुत जगह बचा सकता है। फिजिकल सिम कार्ड की तरह, इसके लिए किसी विशिष्ट कार्ड स्लॉट की आवश्यकता नहीं होती है
  • एक eSIM आपको केवल एक फ़ोन कॉल पर या ऑनलाइन रिक्वेस्ट करके अपने नेटवर्क ऑपरेटर को बदलने की अनुमति देता है।
  • eSIM कई नेटवर्क प्रोफाइल को स्टोर कर सकता है और यह पूरी दुनिया में पूरी तरह से काम करता है। यह उन लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प है जो बहुत यात्रा करते हैं।
  • फिजिकल सिम कार्ड की तुलना में eSIM खोने की संभावना बहुत कम है। एक बार जब आप eSIM को इनेबल और सेट कर लेते हैं, तो आप इसे कभी नहीं खो सकते हैं, यह आपके डिवाइस पर एक हार्डवेयर चिप है और आपके eSIM को खोने का एकमात्र तरीका यह है कि यदि आप अपना स्मार्टफोन खो देते हैं या तोड़ देते हैं।

ये भी पढ़ें: नजदीकी Mobile Tower Radiation का कैसे पता करें?

क्या हमें eSIM का प्रयोग करना चाहिए?

बिलकुल आप प्रयोग कर सकते हैं। अगर आपका डिवाइस इसको सपोर्ट करता है तो।


eSIM को स्मार्टफोन में एम्बेड किया जाता है। ठीक वैसा ही जैसा सीडीएमए फोन होता था। इसका मतलब ये है कि आपका सिम कार्ड कभी खोएगा या नुकसान नहीं होगा। हरेक मोबाइल में अलग तरह के सिम स्लॉट होते हैं लेकिन ई-सिम के साथ आपको ये टेंशन नहीं रहेगी।

eSIM का सबसे बड़ा फ़ायदा यात्रियों को होगा। दूसरे देशों में यात्रा करते समय मानक सिम कार्ड आपके नंबर को एक्सेस करने की अनुमति नहीं देता है। ऐसे में आप फोन में रोमिंग में eSIM एम्बेड कर सकते हैं। साथ ही आप अन्य ऑपरेटर्स में भी आसन से स्विच कर पाएंगे।

स्मार्टफोन निर्माता कंपनी सिम का साइज छोटा कर रही है जिस स्पेस को बढ़ाया जा सके। वहीं अगर सिम कार्ड स्लॉट को ही फोन से कंपनियों को हटा दें दिया जाए तो अन्य उपयोगी चीजों का उपयोग कर पाएंगे। वहीं जब फोन में सिम कार्ड स्लॉट की जगह खाली होगी से नई तकनीक का दायरा अधिक होगा।

Android और iOS पर eSIM को इनेबल और सेटअप कैसे करें

For Android

  • सेटिंग्स खोलें, और कनेक्शंस पर टैप करें
  • अब सिम कार्ड मैनेजर खोलें और Add Mobile Plan पर टैप करें
  • इसके बाद Add यूजिंग क्यूआर कोड ऑप्शन को चुनें
  • अब आपको अपने मेल पर मिले क्यूआर कोड को स्कैन करना होगा और अन्य निर्देशों का पालन करना होगा।
  • स्कैन करने के बाद Add पर टैप करें जो आपके डिवाइस में eSIM जोड़ देगा।


यदि आप अपने Android स्मार्टफ़ोन पर JIO का उपयोग कर रहे हैं, तो आपको नीचे बताए गए कुछ अलग चरणों का पालन करना होगा:

  • Add Using QR Code, के नीचे, आपको Enter Code Instead का विकल्प मिलेगा
  • इस पर टैप करें और इस तरह से एक्टिवेशन कोड डालें: LPA:1$smdprd.jio.com$ <स्पेस> 32 अंकों का एक्टिवेशन कोड जो आपको एसएमएस/ईमेल के जरिए मिला है और कनेक्ट पर टैप करें
  • अब आपका JIO eSIM पूरी तरह से सक्रिय हो गया है और आप इसे सिम कार्ड मैनेजर में देख सकते हैं।

For iOS

  • सेटिंग्स खोलें और मोबाइल डेटा पर टैप करें
  • Add Data Plan चुनें
  • अब आपके मेल पर मिले क्यूआर कोड को स्कैन करें
  • स्कैन करने के बाद फिर से डेटा प्लान जोड़ें चुनें और अपने अनुसार डेटा प्लान लेबल चुनें
  • Continue पर टैप करें और आपका eSIM पूरी तरह से सक्रिय और कॉन्फ़िगर हो गया है।


यदि आप JIO सिम कार्ड का उपयोग कर रहे हैं तो अपने iOS डिवाइस पर eSIM को इनेबल करने के लिए इन चरणों का पालन करें:

  • Add Data Plan विकल्प में, मैन्युअल रूप से विवरण दर्ज करें चुनें
  • आपको एक SM-DP+address column दिखाई देगा, वहां smdprd.jio.com दर्ज करें
  • अब एक्टिवेशन कोड टाइप करें जो आपको eSIM प्रोफाइल कॉन्फिगरेशन SMS में मिला है
  • इसके बाद ऊपर दाएं कोने में नेक्स्ट पर टैप करें और आपका eSIM एक्टिवेट हो जाएगा

भारत में ई सिम प्रदान करने वाले ऑपरेटर्स (eSIM Carriers in India)

Jio, Vodafone Idea (Vi), और Airtel, भारत के तीन सबसे बड़े दूरसंचार ऑपरेटर, समर्थित उपकरणों के लिए eSIM कार्यक्षमता प्रदान करते हैं।

Jio, Vi, और Airtel भी आपके भौतिक सिम को इसका समर्थन करने वाले उपकरणों के लिए eSIM में बदलने की क्षमता प्रदान करते हैं। एक eSIM को केवल एक संगत स्मार्टफोन में डाउनलोड किया जा सकता है और अभी के लिए, केवल Apple, Samsung, Google और Motorola ही ऐसे फ़ोन पेश करते हैं जो भारत में eSIM कार्यक्षमता का समर्थन करते हैं। इसलिए, यदि आप तीन दूरसंचार कंपनियों में से किसी के साथ eSIM का उपयोग करना चाहते हैं, तो यहां चरण-दर-चरण मार्गदर्शिका दी गई है। सुनिश्चित करें कि आप सक्रियण प्रक्रिया के दौरान वाई-फाई से जुड़े हैं।

Airtel eSIM एक्टिवेशन


आप आवेदन नहीं कर सकते, लेकिन आप अपने फिजिकल सिम कार्ड को एयरटेल eSIM में बदल सकते हैं। यह आपके घर के आराम से, निम्न चरणों का उपयोग करके किया जा सकता है

  • अपनी ईमेल आईडी के साथ eSIM को 121 पर ‘eSIMemail’ फॉर्मेट में एसएमएस करें
  • यदि आपकी ईमेल आईडी मान्य है, तो आपको एक एसएमएस प्राप्त होगा, जो आपके फिजिकल सिम को ई-सिम में बदलने की प्रक्रिया की शुरुआत की पुष्टि करेगा।
  • eSIM परिवर्तन अनुरोध की पुष्टि करने के लिए ‘1’ के साथ उत्तर दें। एयरटेल की वेबसाइट के अनुसार, इसे 60 सेकंड के भीतर करना होगा
  • इसके बाद, आपको 121 में से एक और कॉल पर सहमति देने के लिए कहा जाएगा
  • फिर, आपके ईमेल डिवाइस पर एक क्यूआर कोड वाला संदेश भेजा जाएगा
  • इसके बाद Airtel eSIM एक्टिवेशन प्रोसेस शुरू हो जाएगा। इस अवधि के दौरान आपका मौजूदा सिम काम करता रहेगा।

JIO eSIM एक्टिवेशन

एयरटेल के विपरीत आप जिओ स्टोर से या ऑनलाइन फिजिकल सिम को डिजिटल सिम में बदल सकते हैं।

  • eSIM activation request करें : एक्टिव जियो सिम वाले अपने डिवाइस से एसएमएस GETESIM <32 डिजिट EID> <15 डिजिट IMEI> 199 पर भेजें।
  • eSIM प्रोसेसिंग के लिए eSIM नंबर साझा करें : SIMCHG <19-अंकों का eSIM नंबर> टाइप करें और 199 पर SMS भेजें। दो घंटे के बाद, आपको eSIM प्रोसेसिंग पर एक अपडेट प्राप्त होगा।
  • ई -सिम की पुष्टि करें और सक्रिय करें: कन्फर्म करने के लिए एसएमएस के रूप में ‘1’ से 183 पर भेजें। उसके बाद, आपको एक आईवीआर कॉल प्राप्त होगी। 19-अंकीय eSIM नंबर प्रदान करें और यह हो गया।

vi eSIM एक्टिवेशन

Vi के पोस्टपेड मौजूदा या नए ग्राहक जिनके पास एलिजिबल डिवाइस है, वे ई-सिम प्राप्त कर सकते हैं, तो नीचे सूचीबद्ध चरणों के साथ अपने भौतिक सिम को eSIM में बदलें:

  • एसएमएस eSIM<स्पेस>registered email id to199
  • आपको एक पुष्टिकरण एसएमएस प्राप्त होगा। eSIM परिवर्तन अनुरोध की पुष्टि करने के लिए इस संदेश पर “ESIMY” के साथ उत्तर दें
  • इसके बाद, आपको 199 से एक और एसएमएस प्राप्त होगा जिसमें आपसे कॉल पर सहमति देने के लिए कहा जाएगा
  • एक बार यह हो जाने के बाद, आपको अपनी पंजीकृत ईमेल आईडी पर एक क्यूआर कोड प्राप्त होगा
  • कोड Vodafone Idea eSIM को सक्रिय करेगा
सिम और eSIM में क्या अंतर है?

हाँ, यह सही है, दोनों सिम हैं। हालाँकि, सिम कार्ड एक चिप है जो आपके carrier’s plan के साथ आपके फ़ोन के अंदर फिजिकल रूप से स्थापित या हटा दी जाती है। एक eSIM (एम्बेडेड सिम) आपके फ़ोन में अंतर्निहित है और आपके carrier’s plan को अप्रत्यक्ष रूप से डाउनलोड करता है।

क्या eSIM को हैक किया जा सकता है?

यदि कोई उपयोगकर्ता प्रोफ़ाइल को बदलना चाहता है, तो एक ऑपरेटर से सत्यापन का अनुरोध करने के लिए एम्बेडेड सिम को कॉन्फ़िगर किया जा सकता है। यह एप्लिकेशन केवल उपयोगकर्ता से आ सकता है, लेकिन एक खोया हुआ फोन वाला हैकर प्रोफ़ाइल को सफलतापूर्वक संशोधित करने में सक्षम हो सकता है।

क्या eSIM चोरी हो सकती है?

एक eSIM कार्ड फोन को चोरी किए बिना चोरी नहीं किया जा सकता है, जबकि हटाने योग्य सिम कार्ड कभी-कभी चोरी हो जाते हैं, और पोर्ट आउट स्कैम में उपयोग किए जाते हैं।

Similar Posts